Surah Naas in Hindi | सूरह नास हिंदी में पढ़िए

surah naas
surah naas

अस्सलामुअलैकुम दोस्तो क्या आप सूरह नास (Surah Naas in Hindi) को हिंदी में पढ़ना चाहते है और गूगल पर सूरह नास को हिंदी में सर्च कर रहे थे तो आप बिलकुल सही जगह आये है |आज के इस आर्टिकल में सूरह नास को हिंदी में बताया है |

और उसके साथ साथ सूरह नास (Surah Naas in Hindi) के तर्जुमा को भी बताया है और अगर आपको सूरह नास की फ़ज़ीलत और फायदे को जानना है तो उसको भी बताया गया है |

सूरह का नामकुल अयातेंसूरह नंबर
सूरह नास (Surah Naas)6114
Surah Naas in Hindi

और उसके साथ साथ कुछ अहम् बातों को भी बताया गया है |तो आप इस आर्टिकल को पूरा ज़रूर पढ़े आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा |

दोस्तों, सूरह नास को हमने हिंदी भाषा के साथ साथ इंग्लिश और अरबिक दोनों भाषा में बताया है आपको जिस भाषा में पढ़ना हो आप उस भाषा में सूरह फलक को पढ़ सकते है |

Surah Naas in Hindi

surah naas in hindi
surah naas in hindi

बिस्मिल्ला–हिर्रहमा–निर्रहीम

” क़ुल अऊज़ु बिरब्बिन-नास * मलिकिन-नास * इलाहिन-नास * मिन शररिल वसवासिल ख़न्नास * अल्लज़ी युवास्विसु फ़ी सुदूरिन्नास * मिनल-जिन्नति वन्नास * “

Surah Naas Tarjuma in Hindi

कहो के मैं इंसानो के परवरदिगार की पनाह मांगता हूँ | (यानि ) लोगों के बादशाह की | लोगों के माअबूद की | (उस बड़े) वस्वसे डालने वाले की बुराई से जो (अल्लाह का नाम सुनकर) पीछे हट जाता है | जो लोगों के दिलों में वस्वसे डालता है |(खावां) वो जिन्नात में से (हो) या इंसानो में से |

इन्हें भी पढ़े

Surah Naas in Arabic

surah naas in arabic
surah naas in arabic

بِسْمِ اللَّـهِ الرَّحْمَـٰنِ الرَّحِيمِ

*قُلْ أَعُوذُ بِرَبِّ النَّاسِ * مَلِكِ النَّاسِ * إِلَـٰهِ النَّاسِ * مِن شَرِّ الْوَسْوَاسِ الْخَنَّاسِ * الَّذِي يُوَسْوِسُ فِي صُدُورِ النَّاسِ * مِنَ الْجِنَّةِ وَالنَّاسِ

Surah Naas Tarjuma in Arabic

کہو کہ میں انسانوں کے رب کی پناہ مانگتا ہوں۔ (یعنی) لوگوں کے بادشاہ کی ۔ لوگوں کے معبود کی – (اس بڑے) وسوسے ڈالنے والے کی برائی سے جو(اللہ کا نام سن کر) پیچھے ہٹ جاتا ہے۔ جو لوگوں کے دلوں میں وسوسے ڈالتا ہے۔ (خواہ) وہ جنّتوں میں سے (ہو) یا انسانوں میں سے ۔

Surah Naas in English

surah naas in english
surah naas in english

Bismillahir Rahmanir Raheem

Qul a’uzu birabbin naas. Malikin naas. Ilaahin naas. Min sharril waswaasil khannaas. Allazi yuwaswisu fii sudoorin naas. Minal jinnati wannaas.

Surah Naas Tarjuma in English

kaho Ke Main Insano Ke Parwardigaar Ki Panah Mangta Hun.(Yani) Logon Ke Baadshah Ki. Logon Ke Ma’-bood Ki. (us Bare) Waswase Daalne Wale Ki Burai Se Jo (Allah Ka Naam Sunkar) Phiche Hat Jata Hai. Jo Logon Ke Dilon Me Waswase Daalta Hai. (khawa) Woh Jinnat Me Se (Ho) Ya Insaano Me Se.

इन्हें भी पढ़े

Surah Naas Ki Fazilat | सूरह नास की फज़ीलत

हज़रते उक़्बा इब्न अमीर रज़ियल्लाहु तआला अन्हु बयान करते हैं के एक मर्तबा मैं एक जगह में रसूलल्लाह सल्लल्लाहु तआला अलैहि वसल्लम के साथ चल रहा था |

कि अचानक हमें तेज़ हवा और तारीकी ने घेर लिया तेज़ हवा चलने लगी अंधेरा छाने लगा बादल छाने लगे तो रसूलल्लाह सल्लल्लाहु तआला अलैहि वसल्लम सूरह फलक और सूरह नास (Surah Naas in Hindi) के साथ अल्लाह की पनाह मांगने लगे |

क्युकी  इन दोनों सूरतों में अल्लाह की पनाह मांगी गई है इन दोनों सूरतों में अल्लाह ने अपने बंदों को सिखाया है देखो अल्लाह की पनाह मांगो इन तमाम चीजों से अल्लाह की पनाह मांगो |

और जिस चीज़ को अल्लाह सिखाएं तो आप सोचो उस चीज़ पर अमल करने में हमारा कितना फायदा होगा तो यह डायरेक्ट शैतान से जिन्नातों से हासिदों से जितने भी चीजों से हमें नुकसान पहुंच सकता है |

उनसे बचने का तरीका हमें खुद अल्लाह ने बताया है तो जब तेज हवा और तारीकी ने घेर लिया तो रसूलल्लाह सल्लल्लाहु तआला अलैहि वसल्लम ने इन दोनों सूरतों को पढ़ा |

और आप रसूलल्लाह सल्लल्लाहु तआला अलैहि वसल्लम ने आप इन सहाबी से भी फरमाया कि तुम भी इन दोनों सूरतों सूरह फलक (Surah Falaq in Hindi) और सूरह नास (Surah Naas in Hindi) के जरिए अल्लाह की पनाह मांगो |

तो ये सहाबी फरमाते हैं |मैंने भी इन सूरतों को पढ़कर अल्लाह की पनाह मांगी और फरमाया के मैंने रसूलल्लाह सल्लल्लाहु तआला अलैहि वसल्लम को इन दोनों सूरतों की तिलावत के साथ इमामत कराते हुए सुना है |

यानी यह दोनों सूरतें हुजूर नमाज में भी पढ़ाते थे तो पता ये चला कि अगर तेज़ आंधी आ जाए तो उससे भी इंसानों को नुकसान पहुंच सकता है तेज़ हवा आ जाए अंधेरा छा जाए तब हमें इन दोनों सूरतों को पढ़ना चाहिए |

Surah Naas Padhne Ke Fayde | सूरह नास के फायदे

मेरे इस्लामी भाइयो जिस तरह अल्लाह तआला हर चीज़ को किसी न किसी मक़सद से बनाया है इसी तरह ही सूरह नास (Surah Naas in Hindi) को पढ़ने के ज़बरदस्त फायदे हैं | तो आइये हैं सूरह नास के कौन कौन से फायदे है |

शैतानी वस्वसे हिफाज़त जिस शख्स को शैतानी वस्वसे और बुरे बुरे ख़यालात कसरत से आते हो उस शख्स को चाहिए के बावज़ू होकर रोज़ाना 100 मर्तबा सूरह नास पढ़ (Surah Naas in Hindi) लिया करे या पानी पर दम करके पी लिया करे इंशाअल्लाह शैतानी वस्वसे और बुरे बुरे ख़यालात से हिफाज़त रहेगी|

सांप या बिच्छू या मधुमख्खी का डंग मरना – अगर किसी शख्श सांप डस ले या बिच्छू या मधुमख्खी डंग मार दे तो बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम के साथ सूरह नास (Surah Naas in Hindi) बावज़ू होकर पढ़ता जाये और मरीज़ पर दम करता जाये |

तो 5 मिनट तक मुसलसल पढ़ने से दम करने से इंशाअल्लाह तआला मरीज़ को सेहत हासिल होगी |इसी तरह सांप जहाँ पर डसां है तो ये सूरह 3 या 11 मर्तबा बावज़ू पढ़कर नमक पर करें और सांप के डसे हुए को चटाता रहे इंशाअल्लाह तआला सांप का ज़ेहर असर न करेगा |

जादू और बलियात से हिफाज़त – जादू और बलियात से हिफाज़त के लिए आप सूरह नास (Surah Naas in Hindi) को पढ़ सकते है उसके लिए आप को रोज़ाना बावज़ू ३ मर्तबा ये सूरह पढ़ लिया करें इंशाअल्लाह तआला जादू और हर किस्म की बलियत से महफूज़ रहेंगे |

सेहर या जादू के असारात से हिफाज़त – अगर किसी शख्श पर सेहर या जादू के असारात पाए जाते हो तो पांच मुख्तलिफ नलकों का पानी और इसमें दरया या किसी नदी का पानी मिला कर इसपर सूरह नास (Surah Naas in Hindi) को 70 मर्तबा पढ़कर पानी पर दम करें और इस मरीज़ को सुबह निहार मुंह ये पानी पिलाये अल्लाह तआला के हुक्म से शिफा होगी |

FAQs

सूरह नास हिंदी में क्या है?

सूरह नास हिंदी में ” क़ुल अऊज़ु बिरब्बिन-नास * मलिकिन-नास * इलाहिन-नास * मिन शररिल वसवासिल ख़न्नास * अल्लज़ी युवास्विसु फ़ी सुदूरिन्नास * मिनल-जिन्नति वन्नास * ” है |

सूरह नास में कितने आयत हैं?

सूरह नास में 6 आयत हैं |

सूरह नास पढ़ने से क्या होता है?

सूरह नास पढ़ने से अल्लाह तआला हमें हेर बुरी चीज़ से महफूज़ रखते हैं|

Conclusion

दोस्तों इस आर्टिकल में Surah Naas इसकी फ़ज़ीलत और इसकी फायदे को बताया गया है और सूरह नास (Surah Naas in Hindi) उसके तर्जुमा को भी बताया गया है | मुझे उम्मीद है के आप को ये सूरह पसंद आया होगा|और हमारी वेबसाइट officialislamicinfo.com पर आते राइये इसी तरह की जानकारी आपको मिलती रहेगी |

और अगर इस आर्टिकल में मुझसे किसी तरह की गलती हो गयी तो आप मुझे नीचे कमेंट करके ज़रूर बताये ताकि मैं उस गलती को ठीक कर सकू|

और इस आर्टिकल को आप अपने दोस्तो और सोशल मीडिया पर शेयर करे ताकि वो लोग भी इस सूरह का फायदा उठा सके |तब तक मैं आपसे अगले आर्टिकल में मिलता हूँ अल्लाह हाफिज़ |

इन्हें भी पढ़े

Ghar Se Nikalne Ki Dua

Sone Ki Dua

Safar Ki Dua

Taraweeh Ki Dua

Qurbani Ki Dua

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *