Sone ki Dua | सोने से पहले की दुआ 2023

Sone Ki Dua

अस्सलामुअलैकुम दोस्तों, क्या आप गूगल पर Sone ki Dua को सर्च कर रहे थे अगर है तो आप बिलकुल सही जगह पर आये है इस आर्टिकल में हमने Sone ki Dua को Detail में बताया है हमने Sone ki Dua को हिंदी इंग्लिश और अरबिक भाषा में बताया है ताकि आपको पढ़ने में आसानी हो आपको जो भाषा आती हो आप उस भाषा में Sone ki Dua को पढ़ सकते है|

Sone ki Dua के साथ-साथ हमने इस आर्टिकल में सोने से जुड़ी कुछ अहम् बातो को भी बताया अगर आप ये जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को पूरा पढ़ सकते है|

Sone ki Dua in Hindi

Sone Ki Dua

बिस्मिल्लाहिर्रहमानिर्रहीम

अल्लाहुमा बिस्मिका अमुतु व अहया।

तर्जुमाः ऐ अल्लाह मै तेरा नाम लेकर मरता हूँ और जीता हूँ |

Sone ki Dua in English

Bismillahirrahmanirrahim

Allahumma Bismika Amutu Wa-ahya.

Translation – O Allah, I die and live calling your name.

Sone ki Dua in Urdu

بسم اللہ الرحمن الرحیم

اَللّٰھُمَّ بِاسْمِکَ اَمُوْتُ وَاَحْیٰی

– ترجمہ – اے اللہ میں تیرا نام لیکرمارتا ہوں اورجیتا ہوں

Sone se Pehle ki Dua

हमने आपको जो सोने की दुआ ऊपर बताया है उस दुआ को जब भी आप रात को सोने जाये तो उस दुआ को ज़रूर पढ़े उसके साथ -साथ सूरह इखलास, सूरह फ़लक और सूरह नास आप को पढ़कर सोना चाहिए जिससे आप हर परेशानी से बचे रहेंगे |

Sone ki Dua Hindi Me

मेरे अज़ीज़ दोस्तों मैंने आपको ऊपर Sone ki Dua को हिंदी में बता बताया है और उसके साथ-साथ इंग्लिश और अरबिक में भी बताया है और सोने की दुआ के तर्जुमाः को भी बताया है और नीचे हमने सोने का तरीका और सुन्नतें और आदाब को बताया है जिसे आपको ज़रूर पढ़ना चाहिए आपको बहुत कुछ सीखने को मिलेगा |

Sone se Pahle Yeh Kaam Zaroor Kare

हज़रत आयशा सिद्दीका रज़ियल्लाहु तआला अन्हा से रिवायत है के रसूल्लल्लाह सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम का मामूल था के जब रात को सोने के लिए आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम लेटते तो आप दोनों हथेलियों को मिलाते और सूरह इखलास, सूरह फ़लक और सूरह नास पढ़कर हथेलियों में दम फ़रमाते|

फिर जहां तक आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के हाथ मुबारक पहुँच सकते उनको जिस्म मुबारक तक फेरते पहले सर और चेहरे और जिस्म के सामने हिस्से पर फेरते फिर उसके बाद पुरे बॉडी पर फेरते जहां तक आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के हाथ मुबारक पहुंच सकते ये अमल 3 मर्तबा आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम फरमाते ये बड़ा प्यारा अमल है|

अगर आपको रात को सोते वक़्त डर लगता है घबराहट होती है या आपको बुरे खाव्ब नज़र आते है या किसी भी तरह की आपको प्रॉब्लम है या प्रॉब्लम नहीं भी हो तब भी सुन्नत ये है के आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम इस अमल को फ़रमाते थे|

हमें और आप को यह करना है की जब भी सोने के लिए लेटे तो दोनों हथेलियों को मिलाये और सूरह इखलास, सूरह फ़लक और सूरह नास तीनो कुल पढ़ कर हाथो पर दम करे और उसके बाद पुरे बॉडी पर फेर ले |

सबसे पहले सर पर फेरे फिर उसके बाद चेहरे पर और उसके बाद जिस्म के सामने के हिस्से पर आप फेरे फिर उसके बाद पीछे जहाँ तक हाथ पहुंचे वह तक आप हाथ फेरिये तो इंशाअल्लाह बुरा खाव्ब नज़र नहीं आएगा दर नहीं लगेगा जादू जिन्नात का कोई साया है तो इंशाअल्लाह उससे हिफाज़त होगी और सुन्नत पर अमल करने का सबाब मिलेगा ये सबसे बरी बात है तो ये अमल सोते वक़्त करना मस्नून है|

Sone ka Tarika

हमारे नबी का सोने का तरीका कुछ इस तरह था की वह इशा की नमाज़ पढ़ते ही सो जाते थे | और फिर कुछ देर आराम करके दुबारा खरे हो जाते तहज्जुद के लिए और पूरी रात तहज्जुद पढ़कर जब फज़र की अज़ान होती थी अज़ान और नमाज़ में जो वक़्फ़ा होता था इस दौरान आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम हलकी सी नींद लिया करते थे |

ये एक बार आप तजुर्बा करके देखे ये हलकी सी नींद आपको दुबारा ताज़ा दम कर देगी | ये हलकी सी नींद आपको सारे दिन के लिए फ्रेश कर देगी | फिर आपको थकावट महसूस होगी दिन के 12 या 1 बजे जब सूरज अपनी बुलंदी पर पहुंचेगा|


उस वक़्त आप सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम खाना खा कर थोड़ी Quilulah (दोपहर को खाना खाने के बाद आराम करना) करते थे वो Quilul (दोपहर को खाना खाने के बाद आराम करना) आप में एनेर्जी भर देगा आप बिलकुल फ्रेश रहेंगे रात तक के लिए |

Sone ki Sunnatain

आप जब भी सोने के लिए जाये तो सबसे पहले बिस्मिल्लाह पढ़ कर बिस्तर को 3 मर्तबा झार ले ताके कोई कीड़ा वग़ैरा हो तो वो निकल जाये |सोने से पहले Sone Ki Dua पढ़ना सुन्नतें मुबारका है जो हमने ऊपर बताया है |

जो लोग उल्टा (पेट के बल ) सोते है उल्टा सोना मना है एक मर्तबा नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने एक शख्श को पेट के बल लेता हुआ देखा तो नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने फरमाया अल्लाह तआला उल्टा लेटने वाले को पसंद नहीं फरमाता |

  • सोते वक़्त सुरमा लगाना सुन्नत है |
  • दायी करवट सोना भी सुन्नतें मुबारका है |

Sone ke Adaab

सोने के आदाब कुछ इस तरह है की जब आप लेट रहे है तो

  • क़ुरआन ए मजीद की तरफ आपके पैर नहीं होने चाहिए ये अदब के खिलाफ है|
  • और कभी कभी खजूर के चटाई पर आप सो जाये या कभी बिस्तर पर सो जाये या कभी फर्शे ज़मीन पर सो जाना चाहिए|
  • आप जब भी सोने जाये तो आप सोने से जो घर का दरवाज़े को बंद कर देना चाहिए |
  • नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने ऐसी छत पर सोने से मना फ़रमाया है जहाँ गिरने का दर हो उस जगह पर नहीं सोना चाहिए |
  • नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम सोते वक़्त अपने सीधे हाथ को (राइट हैंड ) को तकिया बना लिया करते थे

नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम ने इरशाद फरमाया की असर की नमाज़ के बाद सोना जो है वह अकल को नुकसान पहुंचता है |और दोपहर के वक़्त Quilulah करना मुस्ताहब है और रात के वक़्त बेदार होते वक़्त इबादत करना ये भी नबी पाक सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम सुन्नतें मुबारका है |

सोते वक़्त पाक होकर और बावज़ू होकर सोना मुस्ताहब है |और सोते वक़्त आप कब्र का तसौवूर करे क्युकी हमें मरने के बाद कब्र में भी लेटना है |जब आप नींद से बेदार हो जाये तो आप मिस्वाक करे मिस्वाक करना भी सुन्नत है |

FAQs

सोने की दुआ क्या है?

सोने की दुआ अल्लाहुमा बिस्मिका अमुतु व अहया है ।

सोने की दुआ कब पढ़ना चाहिए?

सोने की दुआ तब पढ़ना चाहिए जब आप सोने जा रहे होते है |

सोने की दुआ अरबिक में क्या है?

सोने की दुआ अरबिक में ” اَللّٰھُمَّ بِاسْمِکَ اَمُوْتُ وَاَحْیٰی ” है|

Conclusion

मेरे अज़ीज़ दोस्तो, इस पोस्ट में मैंने Sone ki Dua को बताया है मुझे उम्मीद है की आपको ये दुआ पसंद आया होगा |अल्लाह तआला हमें सोने और जागने की सुन्नते और आदाब पर अमल करने की तौफ़ीक अता फरमाए अमीन |

और अगर इसमें मुझसे कोई गलती हो गयी हो तो आप मुझे नीचे कमेंट करके ज़रूर बताये जिससे मै उस गलती को सुधार सकूं|

और आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर ज़्यादा से ज़्यादा शेयर करे ताकि वह लोग भी Sone ki Dua की फ़ज़ीलत का फ़ायदा उठा सके| तब तक मैं आपसे अगले पोस्ट में मिलता हूँ अपना ख्याल रखें ख़ुदा हाफ़िज़ |

इन्हे भी पढ़े

Azan Ke Baad ki Dua

Ghar Se Nikalne ki Dua

Safar Ki dua

Nazar Utarne Ki Dau

One comment

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *